Breaking News
Home / वायरल न्यूज़ / सावधान! होटलों-रेस्तओं में बेचा जा रहा मरे हुए कुत्ते-बिल्लियों का मांस

सावधान! होटलों-रेस्तओं में बेचा जा रहा मरे हुए कुत्ते-बिल्लियों का मांस

कोलकाता। कोलकाता के राजा बाजार में एक बर्फ फैक्ट्री में छापे के दौरान सामने आया कि यहां मरे हुए कुत्ते-बिल्लियों का मांस प्रोसेस करके इसकी आपूर्ति होटल और रेस्तरां में की जा रही थी। छापेमारी के दौरान पैक्ड और बिकने के लिए तैयार मरे हुए जानवरों का 20 टन मांस जब्त किया गया गया। इस धंधे ने हाल के दिनों में यहां बड़े उद्योग का रूप ले लिया है। मरे हुए जानवरों का मीट लेकर जा रहे तीन लोगों को गिरफ्तार करने के एक सप्ताह बाद यह छापेमारी की गई है, छापे से साबित हो गया कि कानून प्रवर्तन एजेंसियां काफी लंबे समय से जिस बात को लेकर आशंका जाहिर कर रही थीं, वह सच साबित हुई।

पहले ही आशंका व्यक्त की थी कि मरे हुए जानवरों का मांस बेचने वाले लोग शहर में सक्रिय हैं। इस धंधे ने शहर में एक उद्योग का रूप ले लिया है। इस मामले में एक सप्ताह पहले गिरफ्तार हुए तीन लोगों के साथ 9 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के अनुसार, उन तीनों आरोपियों ने दावा किया था कि मरे जानवरों के मांस में ज्यादातर आवारा कुत्ते और बिल्ली का मांस होता है। हालांकि कोलकाता नगर निगम ने किसी निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले साइंटिफिक टेस्ट का सुझाव दिया है।

छापेमारी के दौरान कई चौंकाने वाले खुलासे हुए जिसके अनुसार यहां मरे हुए जानवरों के मांस को केमिकल के साथ माइनस 44 डिग्री सेल्सियस तापमान में चार से पांच दिनों के लिए रेफ्रिजरेट किया जाता था। इसके बाद इसको फ्रेश मीट में मिलाकर 20 किलो के वजन वाले पैकेट तैयार किए जाते थे और इन्हें महंगे होटेल और रेस्तरां में बेचा जाता था। केएमसी के अतिन घोष ने कहा कि वह मीट के टेस्ट के लिए सेंट्रल फरेंसिक साइंस लैब के लगातार टच में बने हुए हैं। मामले की जांच कर रही दक्षिण 24 परगना जिले के बज बज पुलिस भी अलग से मीट का परीक्षण करा रही है।

विशेषज्ञों का मानना है कि मीट की सटीक पहचान थोड़ी मुश्किल है, क्योंकि इसे फ्रेश मीट के साथ मिलाया गया है। इस मामले में तीन लोगों को राजा बाजार फैक्ट्री से गिरफ्तार किया गया है। जबकि दो लोगों को छापे के बाद शहर के अलग-अलग इलाकों से हिरासत में लिया गया। गिरोह के मुखिया सनी मलिक को बिहार पुलिस की मदद से नवादा से गिरफ्तार किया गया है। दक्षिण 24 परगना के एसपी कोटेश्वर राव ने बताया हमने पूछताछ में सामने आए नाम के आधार पर सनी को गिरफ्तार किया है। उन्होंने आगे बताया पूछताछ के दौरान आरोपियों ने खुलासा किया कि मरे हुए जानवरों के मांस को बज बज, सोनारपुर और कल्याणी के कूड़ाघर से उठाया जाता था।

Check Also

Viral Video: बच्चे ने बाल कटवाते हुए काटा खूब बवाल, बोला- ‘मुझे बहुत गुस्सा आ रहा है’

सोशल मीडिया पर एक वीडियो बहुत तेजी से वायरल हो रहा है. ये वीडियो एक ...